वासुदेव किस जाति के थे और उनके पिता का नाम

वासुदेव श्री कृष्ण के पिता थे आज हम आपको वासुदेव की जाती भी बताएंगे और उनके पूर्वज भी बताएंगे आज की कहानी आपके लिए बहुत खास होने वाली है vasudev ke pita ka naam

राजा ययाति से यदु नाम के पुत्र का जन्म हुआ और यदु से यदुवंश की स्थापना हुई यदुवंश में आगे जाके देवमोड की पहली पत्नी मदिषा से सूरसेन की पत्नी मारीया से 10 पुत्र और 5 पुत्रिया उतपन हुई

vasudev ke pita ka naam
वासुदेव किस जाति के थे

वासुदेव किस जाति के थे

इनमे सबसे बड़े पुत्र वासुदेव हुए थे
और सबसे बड़ी पुत्रियों में से पार्था नाम की पुत्री हुई जिसको कुंती कहा गया
वही देवमाद से परसजन्य का जन्म हुआ परसजन्य से 9 पुत्र हुए जिनमे नन्द बाबा सबसे बड़े थे

वासुदेव

वही भीम सतवत के वंश में अंधक नाम के पुत्र हुए और अंधक से देवकी और कंश उत्पन हुए
वासुदेव की 2 पत्निया थी रोहिणी और देवकी थी रोहिणी से बलराम और देवकी के श्री कृष्ण पुत्र हुए

वासुदेव किस जाति के थे
वासुदेव किस जाति के थे

इस तरह श्री कृष्ण ने यदुवंश में अवतार ग्रहण किया और पार्थवी से पापियों का भार उतारा

जिसमे महाभारत का युद्ध और वाणासुर जिसे राक्षसों को मरना प्रमुख है राधा और कृष्ण के प्रेम से दुनिया को प्रेम करना सिखाया

vasudev ke pita ka naam और गीता जैसा ज्ञान भी श्री कृष्ण ने दिया और हर परस्थिति से लड़ना कृष्ण ने सिखाया है

Leave a Reply

%d bloggers like this: